उसको भूलना गवारा नहीं मुझे
पर वह रह रह कर याद आ रही है
और लोग तो कहते हैं ऐ ‘अनिश’
याद वो आते हैं जिन्हें भूल गये हो.

®नीलकमल वैष्णव”अनिश”

Advertisements